बीजेपी से बगावत कर सीएम रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले सरयु राय बीजेपी से निकाल दिये गये हैं। सरयू राय के अलावा तीन और नेताओं को पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखाया है। सरयू राय जमशेदपुर पूर्वी सीट से सीएम रघुवर दास के खिलाफ निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। जिन नेताओं के खिलाफ कार्रवाई हुई है ये सभी पार्टी के अधिकृत उम्मीदवारों के खिलाफ चुनाव मैदान में हैं।लिहाजा पार्टी नेतृत्व ने यह कार्रवाई की है।सोमवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने यह आदेश जारी किया। बता दें कि सरयू राय मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ जमशेदपुर पूर्वी से चुनाव मैदान में हैं। उन्होंने विधानसभा की सदस्यता और मंत्री पद से तो काफी पहले हीं अपना इस्तीफा दे दिया था।लेकिन बीजेपी से उन्होंने इस्तीफा नहीं दिया था।

झारखंड भाजपा की ओर से कहा गया है कि वैसे नेता जो विधानसभा चुनाव में पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव मैदान में हैं या प्रत्याशी का सार्वजनिक विरोध कर रहे हैं अथवा संगठन के निर्देश के विपरीत कार्य करते हुए अनुशासन तोड़ रहे हैं, ऐसे सभी लोग पार्टी से स्वतरू निष्कासित माने जाएंगे।भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रवीण प्रभाकर ने भी रविवार को पार्टी छोड़ एनपीपी का दामन थाम लिया है। अब वे नाला विधानसभा से चुनाव लड़ रहे हैं। बरकट्ठा से अमित यादव भी भाजपा के अधिकृत प्रत्याशी जानकी यादव के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। बहरागोड़ा से समीर मोहंती, बोरियो से ताला मरांडी, कोडरमा से शालिनी गुप्ता, गोमिया से माधव लाल सिंह, बरही से उमाशंकर अकेला जैसे तमाम नेता हैं, जो भाजपा के अधिकृत प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं।