लगातार घटती आर्थिक विकास दर और GDP का मुद्दा सोमवार को लोकसभा में विपक्षी दलों ने मोदी सरकार को जमकर घेरा। इसके बाद विपक्ष के हंगामे पर बोलते हुए झारखंड से बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने जीडीपी के अस्तित्व पर ही सवाल उठा दिए। उन्होंने कहा कि, भविष्य में जीडीपी का कोई खास उपयोग नहीं होगा। उन्होंने कहा कि आज जीडीपी से ज्यादा सतत विकास का महत्व है।

बीजेपी सांसद ने कहा, ‘जीडीपी 1934 में आया। इससे पहले कोई जीडीपी नहीं था। सिर्फ जीडीपी को बाइबल, रामायण और महाभारत मान लेना सत्य नहीं है। और भविष्य में भी जीडीपी का कोई बहुत ज्यादा उपयोग नहीं होगा।’ निशिकांत दुबे इतने पर ही नहीं रुके, उन्होंने आगे कहा कि आज की नई थ्योरी है कि सस्टेनेबल इकोनोमिक वेलफेयर आम आदमी का हो रहा है कि नहीं हो रहा। GDP से ज्यादा जरूरी है कि सस्टेनेबल डेवलपमेंट, हैपिनेस हो रहा है की नहीं।