इंडियन प्रीमियर लीग(आईपीएल) का 13वां सीजन होगा या नहीं, इसपर अटकलें अभी भी बनी हुई हैं। टूर्नामेंट मार्च महीने के अंत में शुरू होना था लेकिन कोरोना वायरस के कहर के कारण इसे अनिश्चित्तकाल के लिए टाल दिया गया था। हालांकि अब फिर से क्रिकेट शुरू होने के आसार साफ हो रहे हैं। साथ ही चर्चा छिड़ गई है कि आईपीएल होना जरूरी है या फिर अक्तूबर में होने वाला आईसीसी टी20 विश्व कप। अगर इस बार आईपीएल नहीं होता है तो क्या होगा? इस सवाल का जवाब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(बीसीसीआई) के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने दिया है।धूमल ने कहा, ”अगर आईपीएल नहीं होता है, तो क्रिकेट गतिविधियों को बनाए रखना मुश्किल होगा। यह बीसीसीआई के लिए सबसे बड़ा राजस्व प्रमुख है।

आईपीएल और क्रिकेट की वजह से हम हर साल 2000 घरेलू मैच आयोजित करने में सक्षम हैं। यह घरेलू से लेकर जूनियर तक, अधिकारियों तक, हर क्रिकेटर के जीवन को प्रभावित करता है। यदि ऑस्ट्रेलिया इस वर्ष टी20 विश्व कप की मेजबानी करता है, तो हमने स्पष्ट रूप से इसे खेलने का मन नहीं बनाया है, लेकिन यदि ऐसा नहीं हो रहा है, तो सभी को जल्द ही सूचित किया जाना चाहिए ताकि हम आईपीएल को लेकर अन्य योजनाएं बना सकें।