केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने तीन तलाक बिल को लेकर विपक्ष पर हमला बोला। अमित शाह ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति के तहत तीन तलाक बिल का विरोध किया गया।

उन्होंने कहा कि कुछ राजनीतिक पार्टियों को वोट बैंक की आदत पड़ गई है। वो हर चीज को वोट बैंक से जोड़ कर देखते हैं। अमित शाह ने कहा कि ऐसे ही राजनीतिक दलों की तुष्टिकरण की राजनीति के चलते इतने सालों तक तीन तलाक चलता रहा।

अमित शाह ने विपक्षी दलों और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कई लोग बीजेपी सरकार पर आरोप लगाते हैं कि यह काम मुस्लिम विरोधी है। उन्होंने कहा कि ये बताना जरूरी है कि तीन तलाक बिल केवल और केवल मुस्लिम समाज के फायदे के लिए है।

उन्होंने कहा कि भगवान ने महिलाओं को समानता का अधिकार दिया है, जिसे ये तीन तलाक बिल स्थापित करता है। उन्होंने कहा कि तीन तलाक दुनिया के सामने भारत पर बड़ा धब्बा था, जिसे खत्म करना जरूरी था। उन्होंने कहा कि इस कुप्रथा के लिए मुस्लिम महिलाओं ने लंबी लड़ाईयां लड़ी है।