लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष श्री हृदय नारायण दीक्षित रविवार, 18 अगस्त को असाध्य का एक साधक : राम महेश मिश्र पुस्तक का विमोचन करेंगे।

आध्यात्मिक एवं सामाजिक क्षेत्र के वरिष्ठ राष्ट्रसेवी, विश्व जागृति मिशन के निदेशक तथा भाग्योदय फ़ाउण्डेशन के अध्यक्ष व संस्थापक श्री राम महेश मिश्र के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर आधारित इस पुस्तक का लेखन व प्रकाशन कोआपरेटिव बैंक के रिटायर्ड डीजीएम श्री राकेश चन्द्र अग्रवाल एवं उ-प्र-सचिवालय की पूर्व अधिकारी श्रीमती नीना अग्रवाल द्वारा किया गया है।

विमोचन समारोह उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान के यशपाल सभागार में सम्पन्न होगा। यह जानकारी भाग्योदय फ़ाउण्डेशन ट्रस्ट के न्यासी सचिव श्री दिलीप कुमार नायक ने एक विज्ञप्ति में दी। उन्होंने बताया कि अग्रवाल दम्पत्ति द्वारा रचित इस पुस्तक में श्री राम महेश मिश्र के साढ़े तीन दशक की आध्यात्मिक एवं सामाजिक सेवाओं को समाहित किया गया है।

हरदोई मूल के इन्दिरानगर निवासी श्री मिश्र ने उ.प्र.सरकार की राजकीय सेवा से बीच में ही त्याग-पत्र देकर राष्ट्र, धर्म एवं संस्कृति के हितार्थ राष्ट्रीय स्तर पर अपनी सेवाएँ दीं। वह लम्बे समय तक गायत्री परिवार लखनऊ के सक्रिय कार्यकर्ता रहे। उनके सहयोग से लखनऊ में अनेक सेवा संस्थाओं की शुरुआत हुई।


श्री नायक ने बताया कि ‘असाध्य का एक साधक : राम महेश मिश्र’ पुस्तक के विमोचन समारोह में उ.प्र.विधानसभा के अध्यक्ष श्री हृदय नारायण दीक्षित बतौर मुख्य अतिथि पधारेंगे।

इस अवसर पर प्रदेश के कानून व न्याय मन्त्री श्री बृजेश पाठक, पूर्व आईएएस अधिकारी व गोमती एक्शन परिवार के चेयरमैन श्री जय शंकर मिश्र, प्रख्यात लेखक, स्वतन्त्र स्तम्भकार व वैश्विक छवि के वरिष्ठ पत्रकार श्री के. विक्रमराव, राष्ट्रीय कवि आचार्य देवेन्द्र देव तथा महर्षि वेदव्यास उपदेशक महाविद्यालय नयी दिल्ली के प्राचार्य डा. सप्तर्षि मिश्र सहित कई गण्यमान व्यक्ति समारोह में मौजूद रहेंगे।

कार्यक्रम में लखनऊ सहित उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों के समाजसेवी तथा कई सेवा संगठनों के पदाधिकारी हिन्दी भवन में जुटेंगे।