डॉ.पं.श्रीपति त्रिपाठी: जय श्री राम, भक्तों अक्सर मुझसे लोग कहते रहते हैं कि मैं तो हर मंगलवार को बजरंगबली की पूजा करता हूं फिर भी लाभ नहीं मिलता। तो आज मंगलवार है मैं चाहता हूं आपको एकदम सरल और सटीक उपाय बताना।जिससे आप अपने जीवन में राम भक्त हनुमान जी की कृपा प्राप्त कर अपनी मनोकामना पूर्ण करें।

दरअसल सनातन धर्म के अनुसार मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा की जाती है। हनुमान जी यानि बल-बुद्धि और कौशल के दाता, श्री राम जी के परम भक्त और भगवान शिव के रुद्रावतार। हनुमान जी को सदा से साहस और वीरता से जोड़कर देखा जाता है।

किस मूर्ति या तस्वीर की करें दर्शन
हनुमान चालीसा, सुंदर कांड, हनुमानाष्टक, बजरंग बाण का नित्य दिन पाठ और मंगलवार के दिन हनुमान जी के दर्शन करना ये सभी उपाय कष्टों से मुक्ति दिलवाते हैं। लेकिन इसके बावजूद कुछ बातें हैं जिनका ध्यान रखना आवश्यक है, वो है हनुमान जी की पूजा के दौरान उनकी किस मूर्ति या तस्वीर के दर्शन करना कैसे फल प्रदान करता है।


मन की एकाग्रता
ऐसी तस्वीर जिसमें हनुमान जी भक्ति भाव में लीन हैं, उसकी पूजा करने से आपको मानसिक शक्ति प्राप्त होती है साथ ही साथ आपकी एकाग्रता में भी वृद्धि होती है।

रोजगार या नौकरी में चाहते हैं प्रमोशन
सफेद स्वरूप और रंगीन वस्त्रों में पवनपुत्र हनुमान जी की पूजा करने से नौकरी में प्रमोशन की संभावनाएं प्रबल हो जाती हैं, इसके अलाव जो लोग रोजगार की तलाश कर रहे हैं उनकी चिंता भी जल्द ही दूर हो जाती हैं।


दुर्भाग्य से चाहते हैं मुक्ति
अगर आप अपने दुर्भाग्य से मुक्ति पाना चाहते हैं तो आपको हनुमान जी की ऐसी तस्वीर की आराधना करनी चाहिए जिसमें वो प्रभु राम, लक्ष्मण और सीता माता के चरणों में बैठे हों। ऐसी तस्वीर जिसमें स्वयं पवनपुत्र भक्ति भाव में हों उसकी पूजा करने से वो जल्दी प्रसन्न होते हैं।


बल और साहस में चाहते हैं वृद्धि

साहस में वृद्धि करना चाहते हैं तो आपको वीर हनुमान की तस्वीर, जिसमें वो अपने साहस, पराक्रम और आत्मविश्वास से ओत-प्रोत दिखाई दें, की पूजा करनी चाहिए। ऐसा करने से आपके साहस में अत्याधिक वृद्धि होगी।
मान सम्मान चाहते हैं
पवनपुत्र हनुमान, सूर्यदेव को अपना गुरु मानते हैं। जिस तस्वीर में वे अपने गुरु सूर्यदेव की आराधना कर रहे हों, उसकी पूजा करने से ज्ञान, गति, उन्नति और मान-सम्मान मिलता है।
मृत्यु के भय से मुक्ति चाहते हैं
दक्षिण दिशा को यमराज का घर माना गया है, जिस स्वरूप में हनुमान जी दक्षिण की ओर मुख करके बैठे हों, उस तस्वीर की पूजा करने से मृत्यु के भय से मुक्ति मिलती है।


घर में खुशहाली चाहते हैं
देवी-देवताओं का स्थान उत्तर दिशा में मान गया है। ऐसी तस्वीर जिसमें हनुमान जी का मुख उत्तर दिशा की ओर है, उस तस्वीर को हनुमान जी की उत्तरमुखी तस्वीर कहते हैं। उनके इस स्वरूप की पूजा करने से घर में खुशहाली आती है।
नोट:-
हनुमान जी की पूजा करने के मामले में एक बात का ध्यान अवश्य रखना चाहिए कि हनुमान जी को बाल ब्रह्मचारी कहा गया है, विवाहित दंपत्ति को इनकी तस्वीर कभी बेडरूम में नहीं लगानी चाहिए, इनका स्थान मंदिर या पूजा घर में ही होना चाहिए।