पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को इंदिरा गांधी आर्युविज्ञान संस्थान (IGIMS) में 500 बेड वाले अस्पताल भवन का शिलान्यास किया। अस्पताल भवन के निर्माण में करीब 280 करोड़ रुपए खर्च होगें। वहीं, इस अवसर पर सीएम के साथ डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद इस दौरान मौजूद थे।


2500 बेड का अस्पताल बनाने का लक्ष्य
शिलान्यास करने के बाद मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग को 500 बेड वाले भवन बनाने के लिए बधाई दी। सीएम ने कहा कि संस्था में अभी 2500 बेड वाले अस्पताल बनाने का लक्ष्य है ।


300 बेड की धर्मशाला का होगा निर्माण
मरीजों के साथ आने वाले परिजनों के ठहरने के लिए IGIMS में 300 बेड वाले धर्मशाला का भी निर्माण किया जाएगा। धर्मशाला बनने के बाद मरीज के परिजनों को खुले में रात नहीं गुजारना पड़ेगा।


1200 बेड का बनेगा दूसरा अस्पताल
आइजीआइएमएस में 500 बेड के अलावा 1200 बेड का दूसरा अस्पताल भी बनाया जाएगा। उसके लिए भी तैयारी शुरू कर दी गई है। उसका भी शिलान्यास जल्द ही किया जाएगा। 1200 बेड का निर्माण बिहार चिकित्सा सेवा एवं आधारभूत संरचना निगम द्वारा किया जाएगा। इस अस्पताल के निर्माण के बाद आइजीआइएमएस कुल 2500 बेड का हो जाएगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहले ही आइजीआइएमएस को 2500 बेड का अस्पताल बनाने की घोषणा कर चुके हैं। उस दिशा में तेजी से काम चल रहा है।