जम्मू-कश्मीर/ सचिन। कश्मीर में आतंकवादियों के सफाये का अभियान जोरों पर है। सुरक्षाबल चुन-चुनकर आतंकियों का काम तमाम कर रहे हैं। साल के शुरुआती पांच महीने में ही 100 से ज्यादा आतंकवादियों को ढेर किया जा चुका है। सुरक्षा बलों का निशाना बने इन 100 आंतकवादियों में 23 विदेशी और 78 स्थानीय आतंकी शामिल हैं। शोपियां में सबसे ज्यादा 25 आतंकी मारे गए, जिनमें 16 स्थानीय हैं। इसके अलावा पुलवामा में 15, अवंतीपोरा में 14 और कुलगाम में 12 आतंकी मारे गए। इस साल जिन आतंकियों का घाटी से खात्मा हुआ है, उनमें अलकायदा से जुड़े आतंकी गुट अंसार गजवात-उल-हिंद का प्रमुख जाकिर मूसा जैसे टॉप कमांडर शामिल हैं। घाटी के इलाकों से अभी भी बड़ी संख्या में युवा आतंकी सगंठनों में शामिल हो रहे हैं। सेना के अफसरों के मुताबिक, मार्च से अब तक 50 युवा अलग-अलग आतंकी संगठनों में शामिल हो चुके हैं। बड़ी संख्या में स्थानीय युवाओं का आतंकी संगठनों से जुड़ना चिंता का विषय है।