कल वर्षो पुराने अयोध्या मामले पर देश क सर्वोच्च अदालत ने अपना फैसला सुना दिया है। फैसले के बाद अयोध्या में राम मंदिर बनने का रास्ता साफ हो गया है। अदालत अपने आदेश में कहा है कि तीन महीनें के भीतर सरकार एक ट्रस्ट का निमार्ण करे जो अयोध्या में राम मंदिर की रूपे रेखा तैयार करेगी। पटना के महावीर मंदिर ट्रस्ट के प्रमुख आचार्य किशोर कुणालने बड़ा एलान किया है। उनके एलान के मुताबिक महावीर मंदिर ट्रस्ट अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर के लिए 10 करोड़ की राशि देगा। महावीर मंदिर की ओर से हर साल 2 करोड़ रुपये दिए जाएंगे।

5 सालों में 10 करोड़ रुपये भगवान श्रीराम के मंदिर निर्माण के लिए दिए जाएंगे।इसके साथ ही आचार्य किशोर कुणाल ने ऐलान किया कि अयोध्या में रामलला के दर्शन करने आने वाले सभी श्रद्धालुओं को महावीर मंदिर पटना की ओर से नि:शुल्क भोजन कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि अयोध्या में जैसे ही स्थिति सामान्य हो जाएगी श्रद्धालुओं के लिए भोजन की व्यवस्था शुरु हो जाएगी।आचार्य किशोर कुणाल ने अयोध्या में इसकी घोषणा करते हुए कहा कि देशवासियों की काफी समय से ये इच्छा थी अयोध्या में भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर बने। सुप्रीम कोर्ट ने आज देशवासियों की इच्छा पूरी की है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर निर्माण का रास्ता साफ हो गया है।