रुद्रपुर : सरकारी भूमि पर मुआवजा लेने वाले ही नहीं, कोशिश करने वाले भी एसआइटी के राडार पर हैं। इसे षड़यंत्र मानते हुए ऐसे किसानों के खिलाफ कार्रवाई संभव है।