जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर एक तरफ बीजेपी की कट्टर दुश्मन ममता बनर्जी की मदद करने जा रहे हैं। खबर है कि उन्होंने पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव में बतौर रणनीतिकार ममता बनर्जी के लिए काम करने का फैसला किया है। दूसरी तरफ अब बीजेपी भी पीके पर हमलावर हो गयी है। भाजपा के राज्यसभा सांसद राकेश सिन्हा ने कहा है कि जेडीयू उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर को भारतीय राजनीति की समझ नहीं है. सिन्हा के मुताबिक प्रशांत किशोर राजनीति को बाजार की तरह देखते हैं.

बाजार में मांग और पूर्ति की समस्या जहां भी होती है, वहां प्रशांत किशोर नजर आते हैं.प्रशांत किशोर पर निशाना साधते हुए जदयू को भी चेताया है. उन्होंने कहा कि जेडीयू को सोचना होगा उसकी पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष किस-किस पार्टी को अपनी सेवाएं देंगे. प्रशांत किशोर अगर ममता बनर्जी की पार्टी के लिए काम करेंगे तो ये लोकतंत्र के लिए लाभदायक नहीं है. बीजेपी सांसद ममता बनर्जी पर भी निशाना साधते हुए कहा है कि वो जिसकी चाहें मदद ले लें लेकिन उनकी हार निश्चित है.