लोजपा सुप्रीमो राम विलास पासवान पत्नी के साथ विधानसभा पहुंचे थे। विधानसभा में उन्होंने एक गलती कर दी और वह खबर बन गयी। राज्यसभा के उपचुनाव में जीत का सर्टिफिकेट लेने पहुंचे पासवान विधानसभा के विपक्षी बेंच पर बैठ गये.रामविलास पासवान राज्यसभा की एक सीट के लिए हुए उपचुनाव में आज विजयी घोषित किये गये. वे जीत का सर्टिफिकेट लेने विधानसभा पहुंचे थे.

सर्टिफिकेट लिया तो औपचारिकता निभाने विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चैधरी के चैंबर में भी गये. इसी दौरान उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष से अपनी पुरानी यादों का जिक्र किया. पासवान ने कहा कि वे 1969 में विधायक बने थे. उसके बाद फिर कभी विधायक नहीं बने. आज फिर से उनकी दिली तमन्ना है कि उस सदन को देखें जहां वे बैठा करते थे.