कल पटना में बिहार के नियोजित शिक्षकों पर हुए लाठीचार्ज के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है। विपक्ष ने इस पूरे मामले को लपक लिया है और इसको लेकर अब सरकार आक्रामक हो गयी है।। विपक्षी विधायकों ने आज हंगामा किया है और सीएम नीतीश कुमार से इस्तीफे की मांग की है। बिाहर विधानमंडल के मानसून सत्र के दौरान आज विधानसभा परिसर में एकजुट होकर विपक्षी विधायकों ने शिक्षकों पर लाठीचार्ज के मामले में सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और सरकार से इस्तीफे की मांग की।
आपको बता दें कि कल समान काम समान वेतन की मांग को लेकर हजारों की संख्या में बिहार के नियोजित शिक्षक पटना में जमा हुए थे और गर्दनीबाग स्थित धरना स्थल से विधानसभा का घेराव करने निकले थे लेकिन थोड़े दूर हीं बढ़ने के बाद पुलिस ने उन्हें रोका और उन पर बल प्रयोग किया। नियोजित शिक्षकों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया जिससे कई शिक्षक घायल हुए और एक महिला शिक्षिका की मौत भो गयी। इसको लेकर अब बिहार के विपक्षी पार्टियां सरकार पर आक्रामक तरीके से हमलावर हो गयी हैं और सदन में सरकार को घेरने की तैयारी में है। नियोजित शिक्षकों का मुद्दा विपक्ष के महत्वपूर्ण मुद्दों में से एक है और आज सदन परिसर में विपक्ष के हंगामे ने यह साबित भी कर दिया है।