लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव डाॅ सत्यानंद शर्मा ने आज रामविलास पासवान को बड़ा झटका दे दिया है। उन्होंने लोजपा को तोड़कर एक अलग गुट बना लिया है। पटना में बकायदा प्रेस काॅन्फ्रेंस कर उन्होंने इसका एलान किया। सत्यानंद शर्मा ने किसी का नाम लिए बगैर पार्टी के शीर्ष नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए। सत्यानंद शर्मा ने कहा कि लोजपा में लोकतांत्रिक प्रक्रिया पूरी तरह से खत्म हो गई है।

पार्टी के बड़े नेताओं का काम पैसा इक्कठा करना हो गया है।उन्होंने कहा कि चुनाव के लोकसभा चुनाव के दौरान और आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए पार्टी में पैसा लेकर बाहरी लोगों को बड़े पैमाने पर तरहजीह देने और उन्हें लाभ पहुंचाने का काम हो रहा है। उन्होंने कहा कि वर्षों से जो नेता और कार्यकर्ता पार्टी का झंडा ढोते रहे और पार्टी को इस मुकाम तक पहुंचाया गया उनकी लगातार उपेक्षा की जा रही थी। पार्टी पूरी तरह से प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के रुप में काम कर रही है। ऐसी स्थिति में लोजपा के साथ काम करना मुश्किल हो गया था।